मन की शांति कैसे पाये 1


 मन की शांति कैसे पाये ..1

इस आधुनिक दुनिया में, अगर कोई मन की शांति चाहता है; तो एक ऐसे व्यक्ति से परामर्श कर सकते हैं जिसने मन की शांति प्राप्त की हो। वह 'विशेषज्ञ' हमेशा एक आध्यात्मिक व्यक्ति होता है। तब परेशान व्यक्ति को "आश्रम" में कुछ दिनों तक रहने के लिए कहा जाता है जो हमेशा पहाड़ों, नदी के पास या समुद्र किनारे 
पे रहता है।
प्रत्येक धर्म या पंथ का 'मन की शांति का सेण्टर' हमेशा प्रकृति से जुड़ा हुआ होता है।
फिर कुछ दिनों के लिए परेशान व्यक्ति से कहा जाता है * मोबाइल फोन, टीवी से दूर रहें, * कोई आधुनिक वाहन नहीं, कोई मसालेदार भोजन (पिज्जा, पानिपुरी) की अनुमति नहीं दी जाती है, यह कहा जाता है कि अनावश्यक शोर न करें, किसी के साथ बात न करें । प्रकृति की आवाज सुनो।  'ध्यान' में जाओ।

फिर कुछ दिनों के बाद एक व्यक्ति प्रकृति के करीब महसूस करता है और मन की शांति पाता है।


चलिये तकनीकी रूप से बात करते हैं।

एक मानवी दिमाग में 60,000 हर्ट्ज की सामान्य फ्रिक्वेंसी होती है, या सामान्य मानव के मगज में 60,000 विचार प्रति 24 घंटे होते हैं। आधुनिकीकरण या व्यक्तिगत अशांति के कारण यह आवृत्ति 80,000 हर्ट्ज तक बढ़ जाती है। 24 घंटे प्रति 80,000 विचारों के साथ रोगी परेशान होता है। 

इस तरह से इसे समझा जा सकता है, घर के उपकरणों पर बिजली का भार (वोल्टेज) अधिक हो जाता है तो क्या होगा? उपकरण गर्म हो जाता हैं, यह फट सकता है। यह मनुष्यों के साथ भी बिल्कुल होता है।

फिर प्रकृति की फ्रिक्वेंसी क्या है? प्रकृति की फ्रिक्वेंसी 6.7 हर्ट्ज है। जब भी किसी व्यक्ति को 24 घंटे प्रति 10,000 विचारों तक  शांत होने की अनुमति दी जाती है तो इसे दिमाग की परम शांति के रूप में जाना जाता है।

क्या होगा यदि कोई भी 10,000 विचारों से नीचे हो जाए, तो वह आध्यात्मिक व्यक्ति बन जाएगा। क्या होता है अगर कोई 1000 हर्ट्ज से कम हो जाता है? वह अपने परिवार को, अंतिम शांति और सत्य की खोज में छोड़ देगा। क्या होगा यदि कोई भी 6.7 हर्ट्ज आवृत्ति प्राप्त करता है, तो वह होगा .. बुद्ध, महावीर ...

टीवी का प्रतिकूल प्रभाव केवल हत्या, बलात्कार और नकारात्मक कार्यक्रमों को देखने पर होता है। टीवी के बारे में सकारात्मक बात, दुनिया भर में से लाइव ज्ञान प्राप्त करना है। स्मार्ट फोन के बारे में सकारात्मक बात, लोगों से जुड़ना है, बुरी चीज... बच्चोंका रात में 1AM, 2AM तक दोस्तों के साथ चैट करना है।

 समझने का मुद्दा यह है, कि विचारों पर नियंत्रण रखना और दिमाग की शांति प्राप्त करना ही हमारा जीवन है।
डॉ-जोशी
Post a Comment

How to convert TV into SMART TV- Turorial

How to convert TV into SMART TV-Turorial I am using this product Anycast for more than 4 months time. This is working absolutely fi...