Pages

कोरोना तो चला जाएगा...

कोरोना तो चला जाएगा... 


लेकिन अलग अलग प्रकार के कुदरत के प्रकोप हमें देखने के लिए मिलेंगे..

ऑस्ट्रेलिया ने ही आग का दानव देखा...

भारत में तीन दिन पहले काझिरंगा सेंच्युरी में करीब चालीस हजार प्राणी गूढ़ बीमारी से मर गए।

आसमान से उल्का पिंड पृथ्वी की तरफ आ रहे हैं। अप्रैल में भी एक आया था लेकिन उसकी दिशा बदल गई।

किन्तु इससे विचलित होने की जरूरत नहीं है। हम लोग उल्टे भाग्यशाली है कि इन प्राकृतिक आपदाओंको हम देखेंगे और जीयेंगे भी।

इस दुनिया की चार प्रजाति कभी भी नष्ट नहीं होती। 1. मनुष्य, 2. कोंकरोच, 3. मच्छर, 4. चूहे

कोरोना वायरस एलियन एटेक है। एक ऐसा दानव जो दूसरे ग्रह से आया है। यह दानव अदृश्य है। यह किसी भी मनुष्य के शरीर का रूप धारण कर लेता है। कई दिनों तक वो चुपके से अंदर देखता है कि उस मनुष्य के कर्म, और अंतरात्मा की ताकत कितनी है। जो दोनों में कमजोर है उनको यह राक्षस खत्म करता है। जिनके कर्म अच्छे, जो आध्यात्मिक उन्नति के राह पर है उनका शरीर इसे छोड़ना पड़ता है।

किन्तु अहंकारी मनुष्य को यह छोड़ता नहीं। जितने लोग अहंकारी, भगवान को ना मानने वाले होते हैं उनके शरीर को यह दानव निगल जाता है। जो लोग हररोज भगवान की शरण में है।

दिया, धूप, अगरबत्ती,  करते हैं उनके आस पास भी यह राक्षस नहीं भटकता। यह दानव किसी संत महात्मा मुनि ध्यानी का कुछ नहीं बिगाड़ सका है।

यह राक्षस सोच सकता है, यह डरता है। इसको चैलेंज नहीं करना है। चैलेंज अहंकार की निशानी होती है। अपने घर में हर रोज दिया, धूप अगरबत्ती कीजिए। भगवान के शरण में रहिए। यह भाग जाएगा। इसका पेट भर रहा है। इसकी भूख मिटते ही वो चला जाएगा। केवल ध्यान रहे हमे इसका भोजन नहीं बनना है।

इस राक्षस के बाद दूसरे एलियंस, पर ग्रही जीव आएंगे.. मालूम नहीं कब लेकिन वो आएंगे। हम उन्हें देखेंगे, वो हमारे साथ रहेंगे।
करोना भी सम्पूर्णता नहीं जाएगा। वो हमारे साथ रहेगा और हम उनके साथ रहेंगे।

मजेदार बात है, टीबी, पोलियो जैसे दानव हमारे शरीर में छुपे हैं। लेकिन इस समय हमारा डीएनए भगवान ने ऐसा बदला की हमें उन राक्षसो का एहसास भी नहीं होता है। उसी प्रकार से हम इस राक्षस को भी मेहमान बनाकर रखेंगे। और वो किसी की जान नहीं लेगा तो उसे कोई भारतीय बंदा नहीं छेड़ेगा।

क्योंकि यह भूमि करुणा मई महावीर स्वामी की है, भगवान बुद्ध की है, कृष्ण कन्हैया की है। सब प्रेम से रहेंगे।

किसी को कुछ नुकसान नहीं होगा। ✋🏻जिंदगी चलती रहेगी। डर के आगे जीत है। मुस्कुराते रहिए🙂😊☺️😄😁😆✋🏻

No comments:

Corona के डर से कैसे बचा जाए...?

Corona  के डर से कैसे बचा जाए...? क्योंकि वायरस से बचना तो बहुत ही आसान है, लेकिन जो डर आपके और दुनिया के अधिकतर लोगों के भीतर बैठ गया...